50-30-20 का यह नियम आपको बनाएगा अमीर।

Table of Contents

दोस्तों अमीर कौन नहीं बनना चाहता, अमीर बनने के लिए क्या खास बात होनी चाहिए आपके अन्दर, अक्सर लोग सोचते हैं अमीर बनने के लिए Business करना पड़ता हैं, Salary और Regular lncome से अमीर नहीं बना जा सकता, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं हैं, आप अपने आस पास अगर देखे तो कई व्यक्ति ऐसे मिलेंगे जिन्होने नौकरी में रह कर भी करोड़ो रुपय बनाये हैं, हालांकि वे रातों रात अमीर नहीं बने उन्हें अमीर बनाने में समय लगा 10 से 15 साल लेकिन वे अमीर जरूर बने। उनके अमीर बनने के पीछे उनके Financial Discipline का होना पाया गाय है , उनके Regular Saving, lnvestment, Market Research कि आदत ही उनके अमीर बनने का कारण सिद्ध हुआ है।
दोस्तों बड़े बड़े Financial Advisers का कहना है, कि जिस दिन आप कहीं नौकरी लगें और जब उसकी पहली आए तो Salary की आधी रकम को Saving करना चाहिए, लेकिन यह सम्भव कैसे हो पायेगा, क्यूंकि एक तो Salary इतना कम समान्यतः जब आम लोग नौकरी कि शुरुवात में 15000/से 30000/- महीना ही कमा पाते है अब मंहगाई इतना अधिक है कि, लोगों का Basic Needs भी पूरी नहीं हो पाती। बात तो यह भी सही हैं इस लिए युवा Saving नहीं कर पाते, और जब वे Saving करने के बारे में सोचते हैं तब तक इतनी देर हो चुकि होती है कि, उन्हें उसके जमा पैसे पर जो Compoundig Effect मिलना था वह अब नहीं मिल पायेगा।
दोस्तों जब युवा अपने Starting age से ही Saving करने लगते हैं तो उसको एक समय बाद Compounding इतना अधिक मिलता हैं जो कि अमीर कहलाने के लिए काफी है यही कारण है कि अमीर और अमीर होते चले जाते हैं।
दोस्तों युवाओं के लिए बड़े ही चिंता का विषय हैं कि, वह करे तो क्या Expart का माने यह खुद कि जरूरत पूरी करे इस लिए 50-30-20 का नियम युवाओं के लिए बेहद कारगर सिद्ध हुआ है।
आइये दोस्तों समझते हैं, क्या है 50-30-20 का नियम और इसे कैसे लागु किया जाए और कैसे अमीर बना जाए।
दोस्तों यदि आपने अभी अभी अपने Career कि शुरुवात किया है, तो आप 50-30-20 का नियम Follow करें इस नियम का मतलब यह है कि आपको अपने आय का कितना प्रतिशत खर्चे कहाँ करने चाहिए।
दोस्तों आपको आपके मासिक आय का 50% अपने Needs के लिए खर्च करने चाहिए और 30% अपने Want पर और 20% Saving और lnvestment मे लगाना चाहिए।
दोस्तों आपको इस नियम को समझने से पहले Needs और Want को समझना होगा।
दोस्तों Needs वह होता है, जो हमरे दैनिक जीवन के लिए बहुत महत्व पूर्ण होते है, जैसे रोटी, कपड़ा, माकन, वर्तमान समय में Electricity Bill, Mobile Bill, और भी कई चीजें हैं जिसका आपके दैनिक जीवन में बहुत महत्व होते हैं।
Wants वह होते है जो आपके लिए बहुत ज्यादा जरुरी ना हो जैसे आपके लिए कपडे तो जरुरी हैं लेकिन ब्रांडेड कपड़े आपके Wants कहलाएंगे जैसे कि Mobile आपके लिए जरुरी है लेकिन महंगे Mobile आपके Wants हैं।
दोस्तों इस नियम कि सबसे अच्छी बात यह है कि आपको इन सब पर खर्च करने से माना नहीं किया जा रहा है बल्कि इन खर्चो के लिए लिमिट सैट किया गया है ताकि सब कुछ करतें हुए भी आपके Saving में फर्क ना पड़े।
दोस्तों इसके बाद जो 20% आपके पास बचें है यह Saving और lnvestmet के लिए अलग किए गए हैं अब इस 20% पैसे को कैसे मैनेज करना है इस बारे में चर्चा करतें हैं।
दोस्तों मान लेते हैं कि वर्तमान में आपका सैलरी ₹ 20000 है अब इस ₹  20000 का 20% होता है ₹ 4000 अब यह ₹  4000 से आपको सेविंग और इन्वेस्टमेंट करने है, दोस्तों ध्यान रखें जैसे ही आपकी महीने की Salary आए सबसे पहले आपको 20% Saving और Investment के लिए निकालने हैं, फिर बचे हुए 80% मतलब कि ₹  16000 आपके अन्य खर्चे जोकि Needs और Wants में होने है
दोस्तों आपके 20 % मतलब कि ₹  4000 को भी आप 30-30-30-10 भागो में बाँट लें।
पहला ₹ 4000*30% =₹ 1200 को आप अपने Energency Fund के लिए अलग कर लें दोस्तों या इमरजेंसी फंड रखना इसलिए जरूरी है क्योंकि कभी कोई Medical Emergency या अन्य कई प्रकार की Emergency आ गया उस समय यह पैसे आपके काम आएगें। दोस्तों इस पैसे को आपको इस तरह रखना है कि जरुरत पड़ने पर आप इसे तुरंत निकाल सकें, इसके लिए आपके FD RD सही होगा।
दूसरा ₹  4000*30% =₹ 1200 को आप थोड़े Risk वाले इन्वेस्टमेंट जैसे Share, Smallcap SIP, इत्यादि में लगाए क्यूकि इसमें Long time में Return के Chance बहुत अधिक होते हैं।
तीसरा ₹  4000*30% =₹ 1200 को आप Long Time और कम से कम Risk वाले Investment पर लगा दे जैसे Largecap SIP, PPF, इत्यादि दोस्तों ऐसा इसलिए करें ताकि आपके Retirement के समय काम आ सके।
बाकी बचे 10% Insurance में खर्च कर सकते हैं दोस्तों Insurance में आप Term lnsurance or Health Insurance लें तो ही बेहतर होगा किसी Traditional या ULIP Plan ना लें।
दोस्तों जैसे जैसे आपका इनकम बढ़ता जाए आप अपना Saving और Investment वाले Part को बढ़ाते जाए तो यह आपको बहुत ही जल्द अमीर बनाने में मदद करेगा।
दोस्तों यदि आप अपने कुल आय का 1% भी दान के लिए निकालते हैं तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा होगा, यह दान आप किसी अनाथालय और जरूरतमंदों के ऊपर खर्चा करें तो बेहतर होगा जिससे आपको आत्म संतुष्टि मिलेगी और बिना आत्म संतुष्टि के सब कुछ व्यर्थ है।

Leave a Comment