दुनिया का सबसे अमीर भिखारी, अलीशान बंगले नौकरचाकर

Table of Contents

दोस्तों आपने अपने आसपास के चौक चौराहों में किसी न किसी भिखारी को तो देखा ही होगा, गंदे फटे कपड़े, चिपका हुआ पेट, फटे हाल जिंदगी इन की दयनीय स्थिति को देखकर आपको इन पर दया तो आता ही होगा, और आप इनको भीख भी दे देते होंगे लेकिन हाल ही में एक ऐसे शख्स से लोगों का परिचय हुआ है, जो कुछ और ही कहानी बयान करती है।

जी हां दोस्तों हाल ही में भरत जैन नाम का एक भिखारी जोकि मुंबई का रहने वाला बताया जा रहा है।

उसकी कुल संपत्ति कम से कम 7.5 करोड़ रुपए आंका जा रहा है, यह भिखारी डेढ़ करोड़ के बंगले में रहता है, वो खुद तो पढ़ा लिखा नहीं है लेकिन इनके बच्चे कान्वेंट स्कूल में पढ़ाई करते हैं।

इनके पास मुंबई और पुणे में कई फ्लैट हैं जिनको उसने किराए पर दे रखा है।

इसके पास कॉमर्शियल प्रॉपर्टी भी है जिसको दुकान के लिए किराए पर दे रखा है।

जहाँ एक आम आदमी दिन भर मेहनत करके दिन का हजार रुपए कमाता है वहीं यह शख्स दिन में 2 घंटे भीख मांग कर 2000-2500 आराम से कमा लेता है भीख मांग कर महीने का लगभग ₹100000 तक कमा लेता है।

वही किराए से आने वाले रकम और भीख से आने वाले रकम को जोड़ दिया जाए तो लगभग ₹200000 महीने का इनकम हो जाता है।

हालांकि परिवार वाले उन्हें आप भिखारी का काम छोड़ देने को कहते हैं लेकिन भरत जैन इस के लिए मना कर देता है।

चलिए दोस्तों इस पर विस्तार से चर्चा करतें हैं।

दोस्तों वर्तमान में भारत में सर्वाधिक जनसंख्या अगर देखा जाए तो नौकरी करने वालों की है, जोकि बचपन से लेकर नौकरी लगते तक काफी मेहनत करते हैं, दुनिया भर की पढ़ाई कर डिग्री प्राप्त करते हैं, और अंत में जब नौकरी मिल जाए तो सुबह 9:00 से शाम 5:00 तक जी तोड़ मेहनत करते हैं, इसके अलावा कई ऐसे नौकरी ऐसे भी हैं जहां 12 घंटे भी लोग काम करते हैं, लेकिन इन सब के बाद भी इनका नेटवर्थ 7.5 करोड़ नहीं होता, 7.5 करोड़ तो दूर की बात एक करोड़ का भी नहीं हो पाता लेकिन यह शख्स जिसे भरत जैन के नाम से जाना जाता है भीख मांग कर इतना बड़ा नेटवर्क खड़ा कर दिया है।

दोस्तों भरत जैन ही एकमात्र ऐसे भिखारी नहीं है जो कि इतना बड़ा संपत्ति लिए बैठा है, इससे पूर्व में भी कई ऐसे शख्स के नाम हमारे सामने आ चुके हैं, जिनका नेटवर्थ एक आम नौकरी पेशा वालों से कहीं ज्यादा है।

इसी तरह के एक और घटना भी पाकिस्तान में देखने को मीला है, जहाँ एक महिला जो कि पेशे से डॉक्टर हैं, उनका नाम डॉ साजिया है, हुआ यह कि उन्हें शादी के 4 से 5 महीने बाद है अपने सोहर को तलाक देना पड़ा, उनसे ऐसा करने का कारण पूछा गया तब उस लड़की नें इसका खुलासा किया, कि उस लड़की कि शादी काफी आमिर घराने में हुआ था, लेकिन यह अमीरी का कारण कुछ और नहीं, भीख था। दरअसल हुआ यह कि डॉ. साजिया के सोहर चुप चाप भेस बदल कर भीख माँगा करते थे, और यही उनके सोहर का मुख्य धंधा था 

कैसे यह भिखारी बहुत जल्द इतना बड़ा एंपायर खड़े कर लेते हैं क्या भीख मांगना भी प्रोफेशन है क्या कहता है हमारे भारत का कानून इस विषय पर आइए चर्चा करते हैं।

दोस्तों अगर सेंट्रल लेबल पर देखा जाऐ तो ऐसा कोई क़ानून नहीं बनाया गया है, जो भीख मागने को गलत या सही साबित कर सके।

लेकिन कुछ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश को मिला कर कुल 22 राज्यों ने इसके लिए क़ानून बना कर रखें हैं।

जोकि भीख मांगने को अपराध की श्रेणी में रखता है।

इन सभी राज्यों द्वारा बनाए गए कानून में सर्वधिक प्रचलित

कानून है Bombay prevention of begging act 1959, इसी कानून की रह पर चल कर बांकी के अन्य राज्यों ने भी Anti Begging Law बनाये हैं।

इस Law के अनुसार ऐसा कोई भी व्यक्ति जो भीख मांगता हैं, चाहे वो किसी भी तरीके से भिख मांगता हो, जैसे नाच गाने के द्वारा या तामसे दिखा कर यह सभी को भीख के श्रेणी में परिभाषित किया है।

इस कानून के अनुसार ऐसे व्यक्ति को बिना किसी वारेंट के अन्दर किया जा सकता है।

ऐसे व्यक्ति को उसके परिवार से अलग रखा जा सकता है।

ऐसे व्यक्ति जिनको अन्दर किए गए हैं, उनको एक डिटेन्शन सेंटर भेजा जाता हैं, जहाँ इन्हे जीवन चलाने के लिए काम दिए जाते हैं, और समान्य जीवन जीने की सिख दि जाती हैं, लेकिन इसके बाद कोई यहाँ काम करने से माना करें तो उसे सज़ा भी दिया जा सकता है।

इस कानून को भी हाई कोर्ट में चलेंज किए जा चुके हैं, कि कोई व्यक्ति को यदि काम नहीं मिल रहा है, या कोई व्यक्ति काम के लायक ही नहीं है, ऐसे में वह भीख मांगता है तो उसे जेल नहीं भेजा जा सकता।

हाल ही में रेलवे ने भी इसी बात को ध्यान में रख कर रेलवे के अन्दर भीख मांगने वालों के लिए भी किसी प्रकार कि कार्यवाही को नकार दिया है।

हाल ही में दिल्ली हाई कोर्ट ने भी इस बात का समर्थन किया है और Bombay prevention of begging act 1959, कानून को गलत ठराया है।

और यह भी कहा है कि मज़बूरी में आ कर कोई व्यक्ति चोरी, डकैती करें उससे अच्छा है, भीख ही मांग ले।

साथ ही यह भी कहा कि राज्य को चाहिए कि वह कुछ ऐसी व्यवस्था करें कि लोगों को भीख मांगने कि नौबत ही ना आये।

1 thought on “दुनिया का सबसे अमीर भिखारी, अलीशान बंगले नौकरचाकर”

Leave a Comment