Insurance Sector में आने वाले हैं बड़े बदलाव एजेंटो कि हुई चाँदी।

Table of Contents

दोस्तों संसद के होने वाले मनसून सत्र में, Insurance Sector में सरकार लाने वाली है बड़े परिवर्तन, इस सत्र में भारत सकराक Insurance Amedment Bill 2023 को पेस करने वाले है, यह Bill अपने फाइनल स्टेज में पहुँच चुका है, और यह Bill पास हो गया तो Insurance Sector को बदल कर रख देगा।

यह बिल को Insurance Sector को बढ़ावा देने और अधिक आसान बनाने के लिए लाया जा रहा है, जिससे एजेंटो को और Policy Holder दोनों को बड़ा फायदा होगा।

आइए दोस्तों विस्तार से चर्चा करतें हैं, और जानते हैं आखिर क्या बदलाव आने वाले हैं, इस बदलाव से Policy Holder को क्या फायदा होगा, और एजेंटो को कैसे इसका लाभ मिलेगा।

Composite License- दोस्तों अब तक होता यह है कि यदि किसी Life Insurance Company है तो वह सिर्फ Life lnsurance ही सेल करते हैं, और यदि कोई General Insurance Company हैं तो वह सिर्फ General Insurance ही सेल करतें हैं और उसी प्रकार Health Insurance Company है, तो वह सिर्फ Health Insurance ही सेल करतें हैं, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा सभी कंपनियों को Composite License दिया जायेगा, जिससे वह एक कंपनी ही सभी प्रकार के Insurance सेल कर सकते है।

उदाहरण के लिए Lic एक Life Insurance कंपनी है जो कि अब तक सिर्फ Life Insurance सेल करती है, लेकिन इस Compsite License जारी होने के बाद Lic सभी प्रकार कि Insurance सेल कर सकेगी, इसी प्रकार Star Health Insurance Company है, जो अब Life Insurance Sector में कदम रखने वाली है।

दोस्तों सीधा-सीधा कहे तो सभी कंपनी सभी प्रकार के Insurance सेल कर सकेगी।

दोस्तों इस Bill के पास होने से सभी Insurance कंपनीयों के बीच competition बढ़ेगी जिसके फल स्वरुप Insurance सस्ता होगा, नये नये प्लान मार्केट में आयेगा और पॉलिसी धारक को फायदा होगा।

वहीं एजेंटो के लिए भी सुनहरा औसर ले कर आ रहा है यह बिल, एक एजेंट अब हर प्रकार का Insurance सेल कर पायेगा और उनके कमिसन में भी बढ़ोतरी होगी।

Ease Of Doing Business दोस्तों भारत सरकार Insurance Sector को और अधिक आसान बनाने के लिए Capilat Requirments और Solvency Margin को भी कम करने वाली है जिससे मार्केट में नये Insurance कंपनियों के लिए रास्ता खुलेगा, जिससे Healthy Compition Creat होगा, साथ ही यह भी किया जा रहा है कि अब एजेंटो को कमिसन अपने खर्चे से दिया जायेगा, जिससे एजेंटो का कमिसन भी बढेगा क्यूँकि बिना एजेंट के Insurance Business भारत में नहीं चल पायेगा, इसलिए एजेंटो को बनाये रखने के लिए ज्यादा से ज्यादा कमिसन देना होगा।

तीसरा बड़ा बदलाव यह है कि अब यह बीमा कम्पनियाँ बीमा के अलावा अन्य Financial Product भी सेल कर सकेंगे। जैसे -Mutual Fund, SIP, Credit Card, Loan इत्यादि, इससे पहले Life Insurance Policy के बलदे ही लोन दिया जाता था, लेकिन अब अलग से लोन कि सुविधा उपलब्ध होगी।

अगली बदलाव होने वाली है वह कम्पनीयों के lnvestment को Regulate करने कि है वर्त्तमान में 50% Government Securities में और 15% Equity में Invest करने की अनुमति है लेकिन अब IRDAI को यह शक्ति दिया जायेगा की वह इसको कण्ट्रोल कर सके वर्त्तमान में Adani और अन्य Group के मार्केट में उड़ रहें अपवाहों का लोगो के जमा पैसों पर पड़ता है। अब यह बीमा कम्पनियाँ अपने मनमानी नहीं कर पाएंगे।

Ceptive Insurance License – इसके तहत भारत में चल रहें बड़े बड़े कम्पनी अपने ही लोगो के लिए प्राइवेट Insurance की शुरवात भी कर सकेगी।

Leave a Comment